सिस्टर की फ्रेंड को चोदा

हेलो दोस्तों, मेरा नाम देव कुमार है, में पुणे से हूँ, हाज़िर हूँ आप सबको मेरी लाइफ की एक सेक्स से परिपूर्ण कहानी सुनाने की, बहोत दिनों से सोच रहा था आप सबको ये इंडियन सेक्स स्टोरी बताने की बट हिचकिचाहट हो रही थी, लेकिन अब मैने सोच लिया है आप सबके साथ शेयर करने की.

मेरी ये तीसरी चुदाई की कहानी है इस वेबसाइट पे, पहेले की 2 सेक्स स्टोरी पे आप सबके मेल्स आए, बहोत अछा लगा मुझे, आशा करता हूँ इस बार भी आप मुझे बताएँगे की मेरी देसी स्टोरी कैसी लगी आप सबको.

जिस किसिको भी मुझसे कोई बात करनी हो तो वो बे झीजक मुझे मैल कर सकते हैं.

पहेले मैं अपना इंट्रो दे देता हूँ, में एक बड़ी इटआईटी कंपनी पे जॉब करता हूँ, मेरी उमर 27 है, हाइट 5.8 है, लंड का साइज़ तो कभी नापा नही लेकिन मुझे बड़ा लगता है इसीलिए होगा 7-8 इंच के लगभग, जितनी लड़कियों को चोदा है उन सब ने तो बोला है की बहूत बड़ा और मोटा लंड है.

दोस्तों मुझे लड़कियों को किस करना, चुचियों को चूसना, निप्पल्स को दाँतों से काटना, चुत पे उंगली करके पानी निकालना और पीना, और चुत पे लंड डालके चुत का भोसड़ा और चुत फाड़ देना…इन सब चीज़ों पे मेरी बहूत दिलचस्पी है, यूँ कह सकते हो की मुझे सेक्स करना बहूत पसंद है.

आजतक जितनी लड़कियों को चोदा हूँ वो सब आज भी मुझसे चुदने के लिए मरती हैं.

आइए अब स्टोरी शुरू करते हैं, ये कहानी है मेरी और मेरी एक सिस्टर की फ्रेंड की, मेरी बहन मुझसे 3 साल छोटी है, वो एक नंबर की माल है, उसकी चुचियाँ, गॅंड और चुत का दीवाना हूँ, उसे कई बार चोद चुका हूँ, उसे चोद चोद के बोर हो चुका हूँ, मुझे एक नई चुत की तलाश थी.

एक दिन मेरी बहन अपने एक फ्रेंड को घर पे ले आई कुछ काम से, मैं घर पे था, डोर बेल बजी और मैने डोर खोला तो देखा मेरी बहन और उसकी फ्रेंड थी, उसकी फ्रेंड को देखते ही मेरे चड्डी के अंदर का लंड खड़ा हो गया.

उसने एक टाइट जीन्स पहनी थी जिसमे उसकी बड़ी बड़ी गॅंड का शेप पूरा दिख रहा था और उपर एक स्लीवलेस टॉप पहेनी थी एकदम टाइट वाली, उसके बूब्स शायद 34 साइज़ के होंगे, दोस्तों उसका फिगर क्या ग़ज़ब का था, उसके बड़े बड़े बूब्स देखते ही मुझे लगा जैसे अभी जाके इसके बूब्स को दबाउ और चुसून.

ये देखके मेरी बहन ने कहा “अब सिर्फ़ देखोगे ही या अंदर भी जाने दोगे”, मैने होश संभाला और अंदर आने को बोला और मैने हाई बोला, उसने भी स्माइल के साथ हाई बोला, फिर मेरी बहन ने अपनी फ्रेंड से मेरा इंट्रो करवाया और मेरा उससे, हम तीनों बैठके ऐसेही बातें कर रहे थे की थोड़ी देर बाद मेरी बहन का फोन आया और मुझे बोली की उसे इमीडीयेट्ली कहीं अभी जाना है और रात को लौटेगी.

ये सुनके तो मेरे खुशी का ठिकाना ही नही रहा, वो चली गयी, अब सिर्फ़ मैं और मेरी सिस्टर की फ्रेंड थी घर पे, हम बैठके टीवी देखने लगे, दोस्तों आप सबको बता दूं की, उनके आने से पहेले मैं चुदाई की वीडियोस देख रहा था डीवीडी लगा के और जैसे ही वो आए मैने टीवी का चॅनेल लगा दिया था.

टीवी पे मूवी देखते देखते मेरा हाथ ग़लती से रिमोट के डीवीडी ऑप्षन पे लग गया और फिर से चुदाई की वीडियो चालू हो गयी, मैं रिमोट पे उसे बदलने की कोशिश कर रहा था बट पता नही क्या हो गया था रिमोट काम ही नही कर रहा था, इस तरह वो भी चुदाई की वीडियो ध्यान से देखने लगी, मैने उसकी तरफ देखा तो वो बड़े ही इंटेरेस्ट के साथ देख रही थी, फिर मैने चेंज करने की नही सोची.

उसमे सीन चल रहा था- लड़की लड़के का अंडरवेर निकाले लड़के का लंड मूह पे लेके चूस रही थी, ये देखते देखते मेरी सिस्टर की बहन (राधा) धीरे धीरे मेरे करीब आने लगी, थोड़ी देर बाद वो अपने हाथ से मेरे लोवर के उपर अपना हाथ फेरने लगी.

मैने मन में सोचा की मुझे एक नये चुत की तलाश थी शायद वो आज पूरी होगी, मैने उसका हाथ पकड़के और अपने लंड को सहलाने लगा, फिर उसने मेरा लोवर निकाल दिया और अंडरवेर के उपर से सहलाने लगी.

मेरा लंड तो पूरा खड़ा हो गया था, लंड एकदम टाइट होके अंडरवेर फाड़ के बाहर निकालने को तड़प रहा था, उसने झट से मेरा अंडरवेर खोल दिया और मेरे लंड को देखते ही रह गयी.

उसने कहा इतना बड़ा और मोटा लंड उसने आज तक नही देखा था, उसने जल्दी से लंड अपने मूह पे ले लिया और चूसने लगी, मैं तो सातवे आसमान पे पहुँच गया था, लंड चूस्ते चूस्ते मेरे मूह से आआहह ऊओ एस सक इट सक इट हार्ड की आवाज़ें आने लगी.

ये सुनके उसने मेरा लंड और ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी, मुझे जो मज़ा आ रहा था मैं बता नही सकता, लंड चूस चुसके उसने मेरे लंड की हालत ही खराब कर दी, मेरा लंड उसके मूह को चोद रहा था और वो बड़े मज़े से चूस रही थी.

फिर मैने उसे सोफे पे लेटा दिया और उसकी टॉप को फाड़ के निकाल दिया क्यूंकी मेरे अंदर इतना सेक्स चढ़ चुका था की मुझसे रहा नही जा रहा था, उसके बूब्स देखते ही मैं झपट पड़ा, एक हाथ से उसके बूब्स दबाता और एक बूब्स को चूस्ता और एक हाथ से उसकी चुत सहला रहा था जीन्स के उपर से ही.

उसके बूब्स चूस्ते चूस्ते वो एकदम उतेज़ित होके बोली “देव और चूसो मेरे बूब्स को, और ज़ोर से चूसो दबाओ इन्हे ज़ोर ज़ोर से”, ये सब सुनके मैं और मदहोश हो गया और और ज़ोर ज़ोर से चूसने और दबाने लगा उसके बूब्स, फिर मैने उसकी जीन्स की बटन और ज़िप खोलके हाथ उसकी चुत पे घुसा दिया, उसकी चुत एकदम गीली हो गयी थी.

फिर उसकी चुत पे ज़ोर ज़ोर से उंगली करने लगा, यहाँ उसके बूब्स भी चूस रहा था और चुत पे उंगली भी कर रहा था, उसके मूह से आवाज़ आने लगी “आअहह देव मज़ा आ रहा है चूसो मेरे बूब्स और ज़ोर ज़ोर से मेरी चुत पे उंगली करो”

ऐसा ऐसा करते करते मैने उसकी ब्रा और, जीन्स और पैंटी को उतार फेंका और सीधा उसकी चुत पे कूद पड़ा और चाटने लगा, दोस्तों मैं आप सबको बता दूं की मुझे चुत चाटने मे बहूत मज़ा आता है, मेरा बस चले तो मैं पूरा दिन चुत चाटता रहूं.

मैं उसकी गीली चुत चाट रहा था और वो मोन करने लगी, अपनी जीभ से उसकी चुत चोद रहा था, वो पागलों की तरह आवाज़ें निकालने लगी, मेरा सर पकड़के अपने चुत पे दबाने लगी और कहेने लगी “और ज़ोर से चाटो”.

थोड़ी देर बाद मुझसे रहा नही गया, मैने अपना लंड निकाला और उसकी चुत पे घुसा दिया, चुत मे घुसते ही वो थोड़ा चिल्लाई, शायद उसे इतना लंबा और मोटा लंड लेने की आदत नही थी, थोड़ी देर बाद वो अपनी गॅंड उठा के चुदवाने लगी.

फिर मैं भी शुरू हो गया, उसकी ताबड तोड़ चुदाई करने लगा, उसके मूह से सीस्करी आवाज़ें आ रही थी “फक मी देव फक मी फक मी साले बहन्चोद चोद मुझे और ज़ोर से चोद, फाड़ दे इस चुत को आज, चोद चोद के भोसड़ा बना दे”, ये सब सुनके मेरी चोदने की स्पीड और बढ़ गयी, तो इस तरह मैने उसे 3 बार और चोद मेरी सिस्टर के आने तक.